उत्तराखंड

पोल्ट्री वैली योजना के तहत तीन साल में 5000 युवकों और महिलाओं को दिया जाएगा रोजगार

पोल्ट्री वैली योजना के तहत तीन साल में 5000 युवकों और महिलाओं को दिया जाएगा रोजगार..

 

 

 

 

 

 

 

 

गुरुवार को सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत और पशुपालन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने पोल्ट्री वैली योजना की शुरुआत की। उनके कहना हैं कि तीन वर्षों के दौरान योजना से पांच हजार महिलाओं और युवाओं को नामांकित करने का लक्ष्य स्थापित किया गया है।

 

 

 

 

 

उत्तराखंड: गुरुवार को सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत और पशुपालन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने पोल्ट्री वैली योजना की शुरुआत की। उनके कहना हैं कि तीन वर्षों के दौरान योजना से पांच हजार महिलाओं और युवाओं को नामांकित करने का लक्ष्य स्थापित किया गया है। सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने यूकेसीडीपी निदेशालय राजपुर रोड में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि सरकार पोल्ट्री किसानों की आय को दोगुना करेगी।

 

फिलहाल उत्तराखंड में नजीबाबाद और बिजनौर से मुर्गियां आ रही हैं। सरकार स्थानीय पोल्ट्री उत्पादकों का समर्थन करने का प्रयास कर रही है ताकि उनकी आय दोगुनी हो सके और पहाड़ी क्षेत्रों से पलायन रुक सके। चकराता में अभी पोल्ट्री का काम शुरू हुआ है। जिसके बाद अब यह कार्य पूरे प्रदेश में लागू किया जा रहा है।

पशुपालन मंत्री सौरभ बहुगुणा का कहना हैं कि इस योजना से युवाओं को रोजगार के विकल्प मिलेंगे। यह प्रयास पशुपालन और सहकारिता विभाग द्वारा किसानों की आय को दो गुना बढ़ाने के लिए शुरू किया गया हैं। सहकारिता एवं पशुपालन विभाग के सचिव डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2022 से 2025 तक चलने वाली परियोजना अवधि के लिए 5000 लाभार्थियों का लक्ष्य रखा गया है।

182 करोड़ की इस योजना में लाभार्थियों को मुफ्त मुर्गियां और ब्याज मुक्त ऋण प्राप्त होंगे। इस अवसर पर नोडल अधिकारी आनंद शुक्ला, परियोजना निदेशक जयदीप अरोड़ा, निदेशक पशुपालन डॉ. प्रेम कुमार, परियोजना निदेशक डॉ. अविनाश आनंद, अल्पना हल्दिया, प्रबंधक मनोज रावत आदि मौजूद रहे।

 

 

 

 

 

 

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top