सोनप्रयाग में केदारनाथ धाम जाने की जिद पर अड़े रहे कुछ श्रद्धालु..

उत्तराखंड

सोनप्रयाग में केदारनाथ धाम जाने की जिद पर अड़े रहे कुछ श्रद्धालु..

कुछ देर तक सोनप्रयाग में केदारनाथ हाईवे पर धरने पर बैठे श्रद्धालु..

ई पास न होने के कारण श्रद्धालुओं को भेजा जा रहा था वापस..

 

 

 

रुद्रप्रयाग:  शनिवार को केदारनाथ धाम की यात्रा पर आये कुछ यात्री सोनप्रयाग में केदारनाथ हाईवे पर धरने पर बैठ गये। यात्रियों के पास ई पास नहीं थे। जिस कारण उन्हे केदारनाथ धाम जाने की अनुमति नहीं दी गई। ऐसे में यात्रियों में निराशा छा गई और वह केदारनाथ धाम जाने की जिद पर अड़ गये। जब यात्रियों की बात नहीं मानी गई तो वह सड़क पर धरने पर बैठ गये। बाद में पुलिस की ओर से यात्रियों को समझाया गया। जिसके बाद वह सड़क से हट गये।

केदारनाथ धाम आने वाले यात्रियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है, लेकिन ई पास की अनिवार्यता होने के कारण एक दिन में मात्र आठ सौ लोग ही केदारनाथ की यात्रा कर सकते हैं। जिन लोगों के पास ई पास नहीं हैं, उन्हें केदारनाथ धाम नहीं भेजा जा रहा है। देश-विदेश के अनेक हिस्सों से यात्री भारी संख्या में यहां पहुंच रहे हैं, लेकिन ई पास न होने के कारण उन्हे रोका जा रहा है। शनिवार को भी कुछ यात्री केदारनाथ धाम की यात्रा के लिये आये थे, लेकिन ई पास न होने के कारण यात्रियों को केदारनाथ धाम जाने से रोका गया। इस बीच यात्रियों में निराशा छा गई और वह केदारनाथ धाम जाने की जिद पर अड़े रहे और केदारनाथ हाईवे पर धरने पर बैठ गये।

 

यात्रियों का कहना था कि ई पास पहले ही पूरे बुक हो चुके हैं। ई पास न मिलने के बाद उनके पास डबल वैक्सीन की रिपोर्ट और कोरोना नेगेटिव की भी रिपोर्ट है, लेकिन बावजूद इसके उन्हे केदारनाथ नहीं भेजा जा रहा है। दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, पंजाब सहित अन्य राज्यों से वह केदारनाथ दर्शन को आये हैं, लेकिन ई पास न होने के कारण वह दर्शन करने से वंचित रह रहे हैं। बाद में पुलिस की ओर से समझाने के बाद यात्री सड़क से उठे।

 

 

 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top