देवस्थानम बोर्ड के विरोध में लमगौंडी गांव के तीर्थ पुरोहितो ने फूंका पुतला.... - UK News Network
उत्तराखंड

देवस्थानम बोर्ड के विरोध में लमगौंडी गांव के तीर्थ पुरोहितो ने फूंका पुतला….

नारेबाजी लगा कर किया देवस्थानम बोर्ड के पदाधिकारियो का विरोध

सरकार से की देवस्थानम बोर्ड रद्द करने की मांग

गुप्तकाशी (रूद्रप्रयाग)। देवस्थानम बोर्ड विस्तार को लेकर तीर्थ पुरोहितों का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार को केदनाथ धाम के तीर्थ पुरोहितों ने लमगौंणी गांव फिर से  देवस्थानम बोर्ड को स्थगित करने की मांग पर सरकार का पुतला फूककर विरोध जताया। तीर्थ पुरोहितों ने शीघ्र देवस्थानम बोर्ड को स्थगित न किये जाने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

बता दें इस से पहले कल शुक्रवार को केदारनाथ धाम में तीर्थ पुरोहितो ने देवस्थानम बोर्ड का मोन रहकर विरोध जताया था और धाम में तीर्थ पुरोहित और स्थानीय लोग लगातार विरोध जताते आ रहे है, केदार सभा ने भी कल शुक्रवार को गुप्तकाशी में आयोजित बैठक के बाद सर्वसहमति के बाद देवस्थानम बोर्ड का पुतला दहन करके विरोध जताया था

केदरनाथ धाम के तीर्थ पुरोहित अजय जुगरान और क्षेत्र पंचायत सदस्य दुर्गेश वाजपेई का कहना है कि मुख्यमंत्री की ओर से देवस्थान बोर्ड पर पुर्नविचार का आश्वासन दिया गया था। जिस पर तीर्थ पुरोहितों में सराकर राय सुमारी कर बोर्ड के लेकर निर्णय लेने की आस जगी थी। लेकिन अब सरकार की ओर से बिना तीर्थ पुरोहित से वार्ता किये बोर्ड विस्तार कर दिया गया है। जिससे चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारी खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि सरकार की ओर से देवस्थानम बोर्ड स्थगित नहीं किया जाता तो वे उग्र बाध्य होंगे। ग्राम प्रधान अखिलेश सजवाण,अमित अवस्थी, अरविन्द पोस्ती , ध्रुव बाजपेई ,गोपाल अवस्थी , आनंद पोस्ती, धर्मेंद्र जुगरान,गोपाल शुक्ला , हरीश बाजपेई ,विजय अवस्थी,आकाश जुगरान, संजय पोस्ती, अंजुल जुगरान आदि मौजूद थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top