सैनिकों के बलिदान को याद दिलाता है सशस्त्र सेना दिवस : डीएम..

उत्तराखंड

सैनिकों के बलिदान को याद दिलाता है सशस्त्र सेना दिवस : डीएम..

सैनिकों के बलिदान को याद दिलाता है सशस्त्र सेना दिवस : डीएम..

अधिकारी-कर्मचारियों से खुले दिल से दान देने का आहवान..

 

 

 

रुद्रप्रयाग। जनपद में सशस्त्र सेना दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी मनुज गोयल ने अधिकारी-कर्मचारियों से खुले दिल से दान देने का आह्वान करते हुए कहा कि यह दिवस वीर सैनिकों के बलिदान एवं कुर्वानियों की याद दिलाता है। उन्होंने झण्डी बैच ग्रहण कर शहीदों के प्रति संवेदना व्यक्त की। सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर पर सैनिक कल्याण विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी मनुज गोयल ने कहा कि शहीदों के बलिदान एवं कुर्वानी की बदौलत ही हम सुरक्षित जीवन जी रहे है। उन्होने कहा कि यह दिवस शहीदों बलिदान व कुर्वानी की याद दिलाकर देश भक्ति के जज्वे की भावना विकसित करता है।

जिलाधिकारी ने अधिकारियों व कर्मचारियों से खुले मन से दान कर देश सेवा के लिए अपनी भागीदारी दर्ज करने का आह्वान किया। इस दौरान सहायक सैनिक कल्याण अधिकारी सूबेदार मेजर अनुसूया सिंह बिष्ट ने जिलाधिकारी को झंडी बैच पहनाकर शहीदों के प्रति संवेदना एवं उनके बलिदान को याद किया। उन्होने कहा कि सम्पूर्ण भारतवासी सशस्त्र सेना के उन वीर पराक्रम जवानों की याद में इस तिथि पर उन शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं, जिन्होंने हमारे भविष्य के लिये अपने वर्तमान का बलिदान दिया।

 

जिसके लिये भारतवर्ष के प्रत्येक नागरिक से उन शहीदों के बलिदान एवं सेवाओं के प्रति अपना सहयोग दोहराने तथा पूर्व सैनिकों एवं उनके आश्रितों के कल्याणार्थ के लिये सेना झण्डियों का वितरण करके स्वेच्छा से धनराशि एकत्रित करते हैं। तीनों सेनाओं ने अपनी मातृभूमि की रक्षा करते हुये अपने जीवन का बलिदान दिया है। सशस्त्र सेना झंडा दिवस हमें उन शहीदों की वीर नारियों तथा लड़ाई में हुये अपंग सैनिकों तथा उनके आश्रितों के सहयोग के लिये हमारे दायित्व की याद दिलाता है।

 

 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top