जनता की सुविधा के लिये सारथी हिल पैट्रोल यूनिट का गठन - UK News Network
आर्टिकल

जनता की सुविधा के लिये सारथी हिल पैट्रोल यूनिट का गठन

जिले के विभिन्न क्षेत्रों में तैनात रहेगी सारथी पुलिस
घर बैठे ही जनता पुलिस को अपनी समस्याओं से कराएगी अवगत
यात्रा काल में यात्रियों को भी सारथी पुलिस से मिलेंगी बेहतरीन सुविधाएं
रुद्रप्रयाग।
चारधाम यात्रा के साथ ही आपदा के दृष्टिकोण से अतिसंवेदनशील रुद्रप्रयाग जनपद में पुलिस ने सारथी हिल पैट्रोल यूनिट का शुभारंभ किया है। इसके साथ जिले में 15 पुलिस टी टीमें बनाई गई हैं। जो कि जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में तैनात रहकर जनता की सहायता कराएंगे। साथ ही कानून से संबंधित अनेक जानकारियां आम जनता को उपलब्ध कराएंगे। इतना ही नहीं यात्राकाल के दौरान सारथी पुलिस यात्रियों की सेवा में भी तत्पर रहेगी। हीरो मोटो कोब ने पुलिस को 12 मोटरसाइकिल और तीन स्कूटी उपलब्ध कराई हैं। जिनका उपयोग सारथी पुलिस की ओर से किया जायेगा।

जिला मुख्यालय में आयोजित हुये कार्यक्रम में पुलिस के डीजीप अनिल रतूड़ी ने कहा कि रुद्रप्रयाग जनपद चारधाम यात्रा के दृष्टिकोष से महत्वपूर्ण है। केदारनाथ धाम होने के साथ ही अन्य धाम आने-जाने वाले तीर्थ यात्री यहीं से होकर जाते हैं। ऐसे में सारथी पुलिस यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देगी। उन्होंने कहा कि सारथी पुलिस का जिले के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर जनता की समस्याएं भी सुनेगी। प्रदेश के मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने कहा कि भगवान केदारनाथ का धाम रुद्रप्रयाग जनपद में ही विराजमान है। इसलिये रुद्रप्रयाग जनपद का प्रदेश में विशेष महत्व है। आपदा से जनपद धीरे-धीरे उभर रहा है। शासन की ओर से भी बेहतर से बेहतर सुविधाएं प्रदान करने की कोशिश की जा रही हैं। केदारनाथ यात्रा अब पटरी पर लौट रही है। केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य जारी हैं। पुलिस के अपर महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि रुद्रप्रयाग जनपद शांतीप्रिय जनपद है। एसएसबी में रहते हुये कालीमठ घाटी में भी कार्य किया है। आज जनपद आपदा से उभर रहा है। सारथी हिल पैट्रोल यूनिट का गठन होने से निश्चित तौर पर जनपद वासियों को इसका लाभ मिलेगा।

पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ने कहा कि जिले वासियों को अब कोतवाली, थाने और पुलिस चैकियों के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है। जनता की सुविधा को देखते हुये सारथी हिल पैट्रोल यूनिट का गठन किया गया है। इसके तहत 15 पुलिस टीमों का गठन किया गया है। जिसमें 12 टीमें पुरूष कास्टेबल और 3 टीमें महिला कास्टेबलों की हैं। महिला कास्टेबल की टीमे रुद्रप्रयाग, अगस्त्यमुनि और गुप्तकाशी क्षेत्र में रहेंगी। जबकि पुलिस की 12 टीमें जिले के विभिन्न क्षेत्रों में रहेंगी। उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्र में ही जनता अपनी समस्याओं को इन पुलिस कर्मियों को अवगत करा सकती है। उन्होंने हीरो मोटो कोब का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि कोब की बदौलत सारथी पुलिस टीम का गठन हो पाया है। आपदा, यात्रा के साथ ही हर समय यह टीमें अपने कार्य में मुस्तैद रहेंगी। प्रत्येक मोटरसाइकिल पर दो जवान और एक स्कूटी पर दो महिला जवान मौजूद रहेंगी। जिन्हें प्राथमिक उपचार की सामग्री के साथ ही अन्य सामग्री भी उपलब्ध कराई गई है। साथ ही यह पुलिस टीमें जनता को सड़क सुरक्षा के प्रति भी सतर्क रहने की सलाह देगी। इन पुलिस टीमों को फोन भी जनता समस्याएं अवगत करा सकती है। जिसके बाद टीमें मौके पर पहुंच जाएंगी। उन्होंने कहा कि पिछले यात्रा सीजन से केदारनाथ आने वाले यात्रियों की संख्या में वृद्धि हो रही है। इसको देखते हुये पुलिस ने अपनी तैयारियां कर दी हैं। पुलिस की ओर से यात्रियों को बेहतर से बेहतर सुविधाएं दी जाएंगी। कार्यक्रम के दौरान पुलिस की ओर से जनता से भी सुझाव मांगे गये। जनता ने भी यात्रा और ट्रैफिक व्यवस्था से संबंधित अनेक सुझाव पुलिस को दिये। कार्यक्रम का संचालन पुलिस चैकी इंचार्ज केदारनाथ विपिन चन्द्र पाठक ने किया। इस मौके पर हीरो मोटो कोब के वीर शिवाजी, सौम्या, पुलिस उपाधीक्षक श्रीधर प्रसाद बडोला सहित अन्य मौजूद थे।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top