पहले दिन चिनूक ने टैक्टर सहित अन्य मशीनों की सामग्री पहुंचाई केदारनाथ..
उत्तराखंड

पहले दिन चिनूक ने टैक्टर सहित अन्य मशीनों की सामग्री पहुंचाई केदारनाथ..

चिनूक हेलीकाप्टर

गौचर हवाई पटटी से चिनूक ने दो चक्कर मारे केदारनाथ..

एक चक्कर में तीन टन सामान ही ले जाता है चिनूक..

रुद्रप्रयाग : वायुसेना के मालवाहक हेलीकाप्टर चिनूक ने मंलवार को गौचर हवाई पटटी से केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण कार्य सामग्री पहुंचाई। पहले दिन चिनूक ने गौचर हवाई पटटी से दो चक्कर केदारनाथ के मारे। इस दौरान हेलीकाप्टर टैक्टर, ट्रक आदि का सामान केदारनाथ लेकर गया। अभी दो दिनों तक चिनूक केदारनाथ में पोकलैंड सहित अन्य सामग्री को पहुंचायेगा। दरअसल, केदारनाथ धाम में 2013 की आपदा के बाद से लगातार पुनर्निर्माण कार्य चल रहे हैं। आपदा के बाद केदारनाथ धाम में मशीनों को पहुंचाने के लिये वायुसेना के मालवाहक हेलीकाप्टरों का सहारा लिया जा रहा है।

इससे पहले एमआई 26, एमआई 17 आदि हेलीकाप्टरों से केदारनाथ धाम में मशीने पहुंचाई गई। अब चिनूक हेलीकाप्टर से धाम में मशीनों को पहुंचाया जा रहा है। कुछ दिन पहले वायुसेना के चिनूक हेलीकाप्टर ने धाम में सफल ट्रायल लैंडिंग की थी। जिसके बाद यह हेलीकाप्टर 2018 में क्षतिग्रस्त हुये एमआई 17 हेलीकाप्टर के मलबे को भी अपने साथ ले गया था। मंगलवार सुबह चिनूक हेलीकाप्टर ने गौचर से केदारनाथ धाम के लिये दो बार उड़ाने भरी। इस दौरान हेलीकाप्टर ने गौचर हवाई पटटी से धाम में टैक्टर, ट्रक आदि का सामान पहुंचाया। अभी दो दिन तक चिनूक केदारनाथ के लिये उड़ाने भरता रहेगा और पोकलैंड मशीनें, ट्राली, ट्रक आदि का सामान केदारनाथ पहुंचाता रहेगा।

 

 

चिनूक एक दिन में दो चक्कर ही गौचर हवाई पटटी से केदारनाथ के मार रहा है। एक बार में यह हेलीकाप्टर तीन टन माल ही लेकर जाता है। डीडीएमए गुप्तकाशी के अधिशासी अभियंता प्रवीन कर्णवाल ने बताया कि केदारनाथ में चिनूक के माध्यम से भारी मशीनों को पहुंचाया जा रहा है। सुबह के समय चिनूक हेलीकाप्टर गौचर से धाम के लिये उड़ाने भर रहा है। पहले दिन चिनूक ने दो चक्कर केदारनाथ के मारे और टैक्टर, ट्रक आदि का सामान केदारनाथ पहुंचाया। उन्होंने बताया कि अभी दो दिन तक चिनूक धाम में मशीनों को पहुंचायेगा। पोकलैंड मशीन, ट्राली आदि को केदारनाथ पहुंचाया जाना है। उन्होंने कहा कि मशीनों के धाम में पहुंचने से पुननिर्माण कार्य को करने में तेजी आयेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top