हर पग को रोशन करने वाली, वो शक्ति है एक नारी: शाह महिला सशक्तिकरण..
उत्तराखंड

हर पग को रोशन करने वाली, वो शक्ति है एक नारी: शाह..

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर मातृ शक्ति को किया सम्मानित..

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास की ओर से जिला मुख्यालय में कार्यक्रम का आयोजन..

नगर पंचायत ऊखीमठ की ओर से कन्या जूनियर हाईस्कूल में निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन..

रुद्रप्रयाग: महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास की ओर से जिला मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा, स्वास्थ्य, साहित्य, सामाजिक आदि क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 85 महिलाओं को भी सम्मानित किया गया। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने कहा कि वर्ष 1921 से हर वर्ष इंटरनेशनल वूमेन्स डे मनाया जाता है। इस वर्ष यूनाइटेड नेशंस द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का थीम वूमेन इन लीडरशिप एचिविंग ऐन इक्वल फ्यूचर इन ऐ कोविड-19 वल्र्ड घोषित किया गया है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर इस थीम के जरिए कोरोना वायरस महामारी के दौरान स्वास्थ्य देखभाल श्रमिकों के रूप में विश्व भर में महिलाओं के योगदान को रेखांकित करती है। कार्यक्रम के अवसर पर विधायक रुद्रप्रयाग भरत सिंह चौधरी ने कहा कि भारतीय संस्कृति में नारी के सम्मान को बहुत महत्व दिया गया है।

 

संस्कृत में एक श्लोक है यस्य पूज्यंते नार्यस्तु तत्र रमन्ते देवता। अर्थात जहां नारी की पूजा होती है, वहां देवता निवास करते हैं। मां अर्थात माता के रूप में नारी, धरती पर अपने सबसे पवित्रतम रूप में है। माता यानी जननी। मां को ईश्वर से भी बढ़कर माना गया है, क्योंकि ईश्वर की जन्मदात्री भी नारी ही रही है। कहा कि राज्य सरकार द्वारा पंचायत चुनाव में महिलाओं को पचास फीसदी आरक्षण दिया गया है। साथ ही महिलाओं के लिए वर्तमान में राज्य सरकार ने खतौनी में सह खातेदार व घसियारी योजना चलाई है, जिसे उन्होंने महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण बताया। मुख्य विकास अधिकारी भरत चंद्र भट्ट ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई देते हुए कहा महिलाओं का सम्मान आवश्यक है। जिला विकास अधिकारी मनविंदर कौर ने कहा कि महिलाएं पुरुषों से अधिक मजबूत होती हैं। उनका हर स्थान पर सम्मान किया जाना चाहिए। उन्होंने महिलाओं से किसी भी तरह के शोषण को सहन न करने का आह्वान किया।

 

कार्यक्रम में जनपद की वयोवृद्ध कवयित्री जीवंती देवी ने नारी पर आधारित कविता क्यों कहती हो, वो हमसे बड़ा है। नहीं तुमसे कोई बड़ा का मंचन किया। वहीं संगीता बहुगुणा ने कहां मैं चाहती हूँ कविता कलश संस्था की महिला संयोजक व तीलू रौतेली पुरस्कार से सम्मानित कवयित्री उपासना सेमवाल ने बेटियाँ बढ़ने लगी हैं, सूखे मरूस्थल की भी आंखे आँसुओं से भर गयी है व गढ़वाली पंक्तियां कन मा बेटी बचाणा छन, कन मा बेटी पढाणा छन का काव्य मंचन करते हुए सामाजिक सुरक्षा व सामाजिक चेतना का संदेश दिया। जखोली की सुषमा ने धरती हमारा गढ़वाल की गीत गाया। ऊखीमठ की हिमानी ने घुघूती घुराण लगी व अगस्त्यमुनि की अनीषा ने हे दयालू भगवती गाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

 

अपनी सेवा क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं में जिला चिकित्सालय से डाॅ नीतू तोमर, शिक्षा से सुधा सेमवाल, रेखा पुजारी विद्युत विभाग से संगीता चमोली, उद्यान विभाग से सपना, ग्रामीण निर्माण विभाग से मोना रानी, कृषि भूमि संरक्षण से यशोदा देवी कृषि विभाग से मंजू देवी, पूर्ति विभाग की उर्मिला रावत ग्राम पंचायत विकास अधिकारी आरती, रजनी गोस्वामी आदि को भी सम्मानित किया गया। जनपद की रीना कंडारी के डीआरडीए में वैज्ञानिक पद पर चयनित होने पर उसके माता-पिता को भी सम्मान किया गया।

 

इसके अतिरिक्त विभाग द्वारा आयोजित प्रतियोगिता के पहले, दूसरे व तीसरे स्थान पर आने वाली छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा पांच मार्च को आयोजित पेंटिंग, नृत्य व गायन प्रतियोगिता सहित अन्य क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली छात्राओं व महिलाओं का भी सम्मान किया। इससे पूर्व विभाग द्वारा ब्लाक स्तर पर भी कार्यक्रम किया जा चुका है। जहां पर ब्लाक वार प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली छात्राओं की आज जिला स्तरीय प्रतियोगिता करवाई गई। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी भरत चंद्र भट्ट, जिला विकास अधिकारी मनविंदर कौर, परियोजना अधिकारी रमेश चंद्रा, कृषि अधिकारी एस.एस.वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी शैली प्रजापति, हिमांशु बडोला सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

 

वहीं दूसरी ओर अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर नगर पंचायत ऊखीमठ की ओर से कन्या जूनियर हाईस्कूल में निबंध प्रतियोगिता एवं चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान आने वाली छात्राओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अध्यापिका श्रीमती बिष्ट को भी सम्मानित किया गया एवं गीला कूड़ा एवं सूखा कूड़ा पृथक्करण के संबंध में छात्र छात्राओं को बताया गया। इसके साथ ही नगर पंचायत में कार्यरत महिला स्वच्छता समिति की महिलाओं को भी नगर पंचायत ने सम्मानित किया। इस मौके पर अधिशासी अधिकारी संजय रावत, अवर अभियंता संदीप थपलियाल, आशीष राणा, यशवीर सिंह रावत आदि मौजूद थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top