विकास भवन सभागार में जिला विकास समन्वय निगरानी समिति की बैठक..
उत्तराखंड

विकास भवन सभागार में जिला विकास समन्वय निगरानी समिति की बैठक..

आपसी समन्वय से योजनाओं को धरातल पर उतारने के निर्देश..

कहा, मोदी के राज में सबकुछ संभव है..

रुद्रप्रयाग : गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत ने कहा कि विकास कार्यो में लापरवाही किसी भी कीमत में बर्दाशत नहीं की जायेगी। किसी भी समस्या का समाधन निकाला जायेगा। एक विभाग दूसरे का मुंह ताकेगा तो कार्य होना असंभव है। मामला संज्ञान में लाने से हर कार्य संभव है। कार्य करने की इच्छाशक्ति होनी चाहिए। मोदी के राज में सबकुछ संभव है।
विकास भवन सभागार में जिला विकास समन्वय निगरानी समिति (दिशा) की बैठक लेते हुए गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत ने कहा कि अधिकारी किसी भी समस्या को सामने रखें। उसका हर हाल में समाधान निकाला जायेगा। ऐसा नहीं कि विकास को लेकर एक विभाग दूसरे विभाग का मुंह तांकता रहे और गरीब जनता परेशान रहे। उन्होंने अधिकारियों को पारदर्शिता के साथ कार्य करने और समय-समय पर माॅनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए।

केंद्र पोषित योजनाओं तथा कार्यक्रमों की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति आख्या के तहत आयोजित बैठक में गढ़वाल सांसद ने विभागवार विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा कई योजनाएं संचालित की जा रही हैं। ऐसे में अधिकारी आपसी समन्वय स्थापित करते हुए योजनाओं को धरातल पर लाएं, ताकि आम जनमानस को सीधा लाभ मिल सके। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा जानकारी दी गई कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में कुल स्वीकृत धनराशि 855.07 लाख रुपए के सापेक्ष 632.82 लाख की धनराशि व्यय की जा चुकी है। ग्राम्य विकास विभाग ने बताया कि जनपद के अंतर्गत 336 ग्राम पंचायतों में मनरेगा के तहत अलग-अलग योजनाओं में कार्य करवाए जा रहे हैं। इनमें विकास खंड अगस्त्यमुनि, जखोली व ऊखीमठ में कुल 93 शौचालय, 632 गौशालाएं, 142 मुर्गीवाड़े, 37 घेरबाड़ तथा 964 रास्तों का निर्माण किया गया। इसके अतिरिक्त जल संवर्धन से संबंधित 1666, कृषि से 638 कार्य तथा 23 मत्स्य तालाबों का निर्माण किया गया है।

इस बीच कोरोना के कारण जनपद लौटे 7828 नए प्रवासियों का मनरेगा के तहत पंजीकरण किया गया। मनरेगा के तहत ही तीन ग्राम पंचायतों त्यूड़ी, ललूड़ी व मनसूना को डेमस्क गुलाब स्पेशल प्रोजेक्ट के लिए चयनित किया गया है। जिसमें जगह और लाभार्थी के चयन सहित प्राक्कलन निर्माण, मस्टर रोल जारी किया जा चुका है। मनरेगा योजना के अंतर्गत ही ग्राम पंचायत बजीरा में जंगली जानवरों से कृषि भूमि की सुरक्षा के लिए लगभग तीन हेक्टेयर भूमि पर घेरबाड़ निर्माण कार्य किया गया है। जखोली की ग्राम पंचायत बजीरा धनकुराली में बडे़ स्तर पर कीवी फल का उत्पादन किया जा रहा है। साथ ही कीवी फल की नर्सरी भी तैयार की जा रही है। एनआरएलएम प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण तथा शहरी विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के अंतर्गत पात्र परिवारों के विवरण संबंधी जानकारी दी गयी।

इसके बाद विद्युत, पेयजल, जल-संस्थान, पी.एम.जी.एस.वाई, लो.नि.वि, राष्ट्रीय राजमार्ग, रेलवे, शिक्षा, समाज कल्याण, स्वजल, कृषि, सेवायोजन, खाद्य एवं आपूर्ति, उद्योग, महिला सशक्तिकरण व सिंचाई विभाग द्वारा प्रगति आख्या प्रस्तुत की गयी, जिस पर गढ़वाल सांसद ने संतोष व्यक्त किया। इस मौके पर रुद्रप्रयाग के विधायक भरत सिंह चैधरी, ब्लाॅक प्रमुख अगस्त्यमुनि श्रीमती विजया देवी, ऊखीमठ श्रीमती श्वेता पाण्डे, जिलाध्यक्ष भाजपा दिनेश उनियाल, पूर्व जिलाध्यक्ष विजय कपरवान, सभासद सुरेन्द्र सिंह रावत, पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर, मुख्य विकास अधिकारी भरत चंद्र भट्ट, जिला विकास अधिकारी मनविंदर कौर सहित सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top