गुप्तकाशी गदेरे ने भैंसारी गांव में मचाई तबाही..... - UK News Network
उत्तराखंड

गुप्तकाशी गदेरे ने भैंसारी गांव में मचाई तबाही…..

ग्रामीणों के घरों में घुसा गदेरे का पानी, खेतों का भी पहुंचा नुकसान

डर के साये में रात भर जागते रहे ग्रामीण

रुद्रप्रयाग। क्षेत्र में शनिवार रात्रि हुयी भारी बरसात के कारण गुप्तकाशी गदेरे के मार्ग भटकने से भैंसारी गांव में पानी तथा मलबा फैलने से गांव में तबाही मच गयी। जिस कारण रात भर ग्रामीण दहशत में रहे। ग्रामीणों ने रात को एनएच मार्ग की बंद पड़ी निकास नाली खोलने की भरपूर कोशिश की, लेकिन रात भर भयंकर बरसात होने के कारण जल निकासी नाली नही खुल पायी। रविवार काफी देर में लोनिवि उखीमठ द्वारा जेसीबी से मलबे को साफ करने के बाद ही ग्रामीणों ने राहत की सांस ली।

दरअसल, गुप्तकाशी खंाखरा गदेरे तथा अन्य गदेरों में ही स्थानीय लोगों तथा सफाई कर्मियों द्वारा बाजार भर की गंदगी को फैंका जाता है, जिस कारण गदेरे के दोनों तरफ पांलीथीन प्लास्टिक के फंसने के कारण गदेरे का बहाव दूसरी ओर मुड़ जाता है। शनिवार रात्रि हुयी भारी बरसात के कारण भैंसारी गांव में गदेरे का बहाव प्लास्टिक पालीथीन से बाधित हो गया, जिस कारण इसका बहाव मोटरमार्ग से होते हुये भैंसारी गांव में फैल गया, भारी मलबे के साथ ही बरसाती पानी फैलने से ग्रामीणों में डर का माहौल बन गया। ग्रामीणों ने रात भर इस मलबे तथा बरसाती पानी की दिशा को परिवर्तित करने की कोशिश की, लेकिन भयंकर बरसात के कारण ऐसा नही हो पाया। गांव में कई घरो में ना केवल पानी भर गया, बल्कि कृषि योग्य भूमि को भी खासा नुकसान पहुंच गया।

निवर्तमान प्रधान योगेन्द्र सिंह ने बताया कि बरसाती सीजन में भैंसारी गांव के नीचे मंदाकिनी नदी के लगातार कटाव के कारण गांव खतरे की जद में आ गया है। अब गुप्तकाशी के दो-दो गदेरों के कारण गांव को खासा नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने शीघ्र जिला पंचायत से कूड़ा एकत्रीकरण के लिये वाहन की मांग के साथ ही मंदाकिनी नदी के कटाव से सुरक्षित रखने के लिये चैकडेम की मांग की है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top