जिलाधिकारी ने स्वयंसेवियों को दिए सफलता के मंत्र... - UK News Network
उत्तराखंड

जिलाधिकारी ने स्वयंसेवियों को दिए सफलता के मंत्र…

राइंका रुद्रप्रयाग के खुरड़ में आयोजित एनएसएस शिविर में पहुंचे डीएम, स्वयंसेवियों के साथ किया नाश्ता…. 

रुद्रप्रयाग। स्वामी सच्चिदानंद इंटर कॉलेज रुद्रप्रयाग के खुरड़ में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना के शिविर में तब कौतूहल मच गया, जब सवेरे उन्हें पता चला कि जिले के सर्वोच्च अधिकारी जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल उन्हें नाश्ता भी करवाएंगे और उनके साथ बैठकर स्वयं नाश्ता भी करेंगे।

जिला मुख्यालय स्थित स्वामी सच्चिदानंद इंटर कॉलेज का सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना का शिविर जिला विकास भवन के समीप स्थित प्राथमिक विद्यालय खुरड़ में संचालित हुआ। इसमें वृक्ष-प्रेमी शिक्षक सतेंद्र भंडारी को भी आमंत्रित किया गया था। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल को भी शिविर संचालकों द्वारा आमन्त्रित किया गया तो वे भी अपनी व्यस्तता के बीच से समय निकालकर पहुंचे।

वृक्षारोपण से कार्यक्रम की शुरुआत करने के बाद उन्होंने शिविरार्थियों को सेवा योजना कद महत्व और अपने स्कूली दिनों में उसमें भागीदारी की याद ताजा की। उन्होंने इसके सेवा पक्ष को महत्वपूर्ण बताते हुए समाज के हर वर्ग तक पहुंचने, उसके प्रति एक समझ विकसित करने और समाज को इससे जोड़ने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मनुष्य को समाज में विभिन्न सेवाओं के द्वारा अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।

उन्होंने शिक्षा के साथ शारीरिक और सामाजिक विकास के कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी के लिए भी शिविरार्थियों को प्रेरित किया। जिला मुख्यालय के समीप आयोजित इस शिविर को अधिक सार्थकता प्रदान करने के लिए उन्होंने सरकारी कार्यालयों की गतिविधियों से अवगत होने कज सलाह दी। दूसरे दिन सुबह ही उन्होंने शिविरार्थियों को नाश्ता कराने और स्वयं भी उनके साथ नाश्ता व विचार-विमर्श करने की सूचना भेजी तो शिविरार्थी चकित रह गए। जिलाधिकारी ने न केवल उनके साथ जमीन पर बैठकर नाश्ता किया, बल्कि उन्हें सफलता के अनेक सूत्र भी दिए और खूब मेहनत करके सफलता के नए आयाम छूने की प्रेरणा भी दी।

उन्होंने बताया कि संचार क्रांति के इस युग में ई-लर्निंग के द्वारा युवा काफी सहायता प्राप्त कर सकते हैं और अनेक प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। जिलाधिकारी के इस व्यवहार ने शिविरार्थियों का मनोबल तो बढ़ाया ही, उन्हें समाज के प्रति अधिक जिम्मेदार बनने की सीख भी दी। राष्ट्रीय सेवा योजना अधिकारी शशि पुरोहित तथा अन्य सहयोगियों ने जिलाधिकारी के इस व्यवहार को अभिनव एवं अनुकरणीय बताते हुए उनका आभार व्यक्त किया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top