सीबीएसई की कंपार्टमेंट परीक्षाएं 22 सितंबर से शुरू होंगी गाइडलाइन जारी..
उत्तराखंड

सीबीएसई की कंपार्टमेंट परीक्षाएं 22 सितंबर से शुरू होंगी इस दुर्गम क्षेत्रों में भी बनाए गए केंद्र

सीबीएसई की कंपार्टमेंट परीक्षाएं 22 सितंबर से

सीबीएसई की कंपार्टमेंट परीक्षाएं 22 सितंबर से शुरू होंगी

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की कंपार्टमेंट परीक्षाओं के लिए गाइडलाइंस जारी हो गई है। सीबीएसई देहरादून ने सभी केंद्रों को दिशा-निर्देश भेज दिए हैं। 22 सितंबर से 10वीं, 12वीं की कंपार्टमेंट परीक्षाएं देहरादून रीजन के 108 केंद्रों पर आयोजित होने जा रही हैं।

सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया कि कंपार्टमेंट परीक्षाओं के लिए देहरादून रीजन ने पहली बार दुर्गम इलाकों में भी परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। कोविड के चलते तय किया गया है कि किसी भी छात्र को जिले से बाहर नहीं जाना पड़े। लिहाजा, इस साल यूपी के बदांयू से लेकर चमोली, उत्तरकाशी और चंपावत में भी परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।
बुखार हुआ तो अलग से बैठाया जाएगा
परीक्षा देने आए किसी छात्र का तापमान ज्यादा पाया जाता है तो उसके लिए अलग से कमरे में व्यवस्था की जाएगी। वह बाकी छात्रों के साथ बैठकर परीक्षा नहीं दे पाएगा। सीबीएसई देहरादून के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह ने इस संबंध में सभी परीक्षा केंद्रों को निर्देशित कर दिया है।

इन नियमों का करना होगा पालन

-छात्रों को पानी की बोतल और हैंड सैनिटाइजर पारदर्शी बोतल में ले जाना होगा।
-मास्क या कपड़े से मुंह व नाक को कवर करना अनिवार्य होगा।
-सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का पालन करना होगा। अभिभावकों की जिम्मेदारी होगी कि वे बच्चों को नियमों की जानकारी दें।
-अभिभावक इस बात का ध्यान रखें कि उनका बच्चा बीमार न हो।
-एडमिट कार्ड पर दिए गए दिशा-निर्देश का भी पालन करना होगा।
-छात्रों को उत्तर पुस्तिका दस से सवा दस के बीच में बांट दी जाएगी और परीक्षा डेटशीट के हिसाब से होगी।
-प्रश्नपत्र 10:15 बजे दे दिया जाएगा। 10:30 बजे प्रश्नपत्र पढ़ने का समय मिलेगा।
-थ्योरी और प्रैक्टिकल में फेल हुए छात्रों की परीक्षा अलग से होगी।
-जिस विषय में प्रैक्टिकल है, उसके थ्योरी पेपर में वही छात्र बैठ सकते हैं, जो प्रैक्टिकल में पास हैं।
-प्राइवेट छात्रों की परीक्षा भी इन्हीं परीक्षा केंद्रों पर होगी। अगर उन्हें अलग से इसके बारे में सूचना नहीं दी गई है।
-प्राइवेट छात्र अपने स्कूल के प्रिंसिपल से थ्योरी एग्जाम सेंटर के बारे में और प्रैक्टिकल एग्जाम की तारीख और समय के विषय में बात कर लें।
-प्रैक्टिकल एग्जाम 28 सितंबर के पहले पूरे हो जाने चाहिए, यानी थ्योरी एग्जाम खत्म होने के पहले। रेग्यूलर छात्रों के प्रैक्टिकल एग्जाम उनके अपने स्कूल में ही होंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top